नरेंद्र मोदी स्टेडियम में रिलायंस और अडानी में छिड़ा विवाद,ट्विटर यूजर बोले अब गुजरात का नाम भी बदला जायेगा, expr:class='data:blog.pageType'>

Ticker

6/recent/ticker-posts

नरेंद्र मोदी स्टेडियम में रिलायंस और अडानी में छिड़ा विवाद,ट्विटर यूजर बोले अब गुजरात का नाम भी बदला जायेगा,

India vs England, 3rd Test: भारत-इंग्लैंड के बीच तीसरे टेस्ट मैच में टॉस से पहले राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दुनिया के सबसे बड़े और अत्याधुनिक क्रिकेट स्टेडियम का उद्घाटन किया। इसका नाम अब सरदार पटेल स्टेडियम की बजाय देश के प्रधानमंत्री के नाम पर 'नरेंद्र मोदी स्टेडियम' कर दिया गया है।

राष्ट्रपति ने उद्घाटन के बाद अपने संबोधन में कहा, ''इस स्टेडियम की परिकल्पना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की थी जब वह गुजरात के मुख्यमंत्री थे।L

वह उस समय गुजरात क्रिकेट संघ के अध्यक्ष थे। यह स्टेडियम पर्यावरण के अनुकूल विकास का एक उदाहरण है।'' वहीं गृहमंत्री अमित शाह ने कहा, ''हमने इसका नामकरण देश के प्रधानमंत्री के नाम पर करने का फैसला किया है। यह मोदी जी का ड्रीम प्रोजेक्ट था।''

'अडानी एंड' और 'रिलायंस एंड' पर छिड़ा विवाद

इसके साथ ही स्टेडियम में एक छोर का नाम 'अडानी पवेलियन एंड' और दूसरे छोर का नाम 'रिलायंस एंड' रखा गया है, जिसके बाद सोशल मीडिया पर घमासान छिड़ गया। अब फैंस ये सवाल पूछने लगे हैं कि क्या स्टेडियम के बाद अब गुजरात का भी नाम बदलने जा रहा है?

सोशल मीडिया पर घमासान

ओलंपिक आकार के 32 फुटबॉल स्टेडियमों के बराबर

करीब 63 एकड़ से अधिक परिसर में फैले इस स्टेडियम की दर्शक क्षमता एक लाख 32 हजार है और इस पर 800 करोड़ रुपये खर्च किए गए हैं। इससे पहले मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड सबसे बड़ा स्टेडियम था जिसकी दर्शक क्षमता 90,000 है। यह ओलंपिक आकार के 32 फुटबॉल स्टेडियमों के बराबर का है।

एमसीजी का डिजाइन बनाने वाले ऑस्ट्रेलियाई आर्किटेक्ट फर्म पोपुलस समेत कई विशेषज्ञ इसके निर्माण में शामिल थे। इसमें लाल और काली मिट्टी की 11 पिचें बनाई गई है। यह दुनिया का अकेला स्टेडियम है, जिसमें मुख्य और अभ्यास पिचों पर एक सी मिट्टी है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ