मुकेश अंबानी के आवास के पास एक संदिग्ध वाहन में विस्फोटक रखने के मामले में जैश-उल-हिंद नामक आतंकी संगठन ने जिम्मेदारी ली है। बोला है ये अभी ट्रेलर है पिक्चर अभी बाकी है

Ticker

6/recent/ticker-posts

मुकेश अंबानी के आवास के पास एक संदिग्ध वाहन में विस्फोटक रखने के मामले में जैश-उल-हिंद नामक आतंकी संगठन ने जिम्मेदारी ली है। बोला है ये अभी ट्रेलर है पिक्चर अभी बाकी है

नेशनल डेस्क: दक्षिण मुंबई में उद्योगपति मुकेश अंबानी के आवास के पास एक संदिग्ध वाहन में विस्फोटक रखने के मामले में जैश-उल-हिंद नामक आतंकी संगठन ने जिम्मेदारी ली है। जैश उल हिन्द ने टेलीग्राम ऐप के जरिए इस बात की जिम्मेदारी लेते हुए लिखा कि ये तो अभी ट्रेलर है, पिक्चर अभी बाकी है।

इसी संगठन ने दिल्ली में इजरायली दूतावास के पास धमाके जिम्मेदारी ली थी।

आतंकी संगठन ने लिखा- ये तो ट्रेलर है, पिक्चर अभी बाकी है
संगठन ने जांच एजेंसी को चैलेंज करते हुए लिखा कि रोक सकते हो तो रोक लो तुम कुछ नहीं कर पाए थे जब हमने तुम्हारी नाक के नीचे दिल्ली में तुम्हें हिट किया था, तुमने मोसाद के साथ हाथ मिलाया लेकिन कुछ नहीं हुआ। दरअसले मुंबई पुलिस की अपराध शाखा ने अब तक इस मामले में 25 लोगों के बयान दर्ज किए हैं। पुलिस की टीम उस इनोवा कार का पता लगाने की कोशिश कर रही है, जिससे एक व्यक्ति को जाते हुए देखा गया था।


सीसीटीवी फुटेज की जांच कर रही पुलिस
पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि जांचकर्ताओं ने उन मार्गों पर लगे सैकड़ों सीसीटीवी फुटेज की जांच की है, जिनसे होकर ये दोनों कार गुजरी थी लेकिन अभी तक कोई सुराग नहीं मिला है। याद हो कि मुंबई में वीरवार की शाम उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर से कुछ दूर स्कॉर्पियो कार में विस्फोटक सामग्री जिलेटिन की बीस छड़ें पाई गईं थी। एसयूवी के अंदर एक पत्र भी मिला था, जिसमें अंबानी और उनके परिवार को कथित तौर पर धमकी दी गई थी।


फॉरेंसिक जांच के लिए भेजी गई कार
पुलिस ने बताया कि स्कॉर्पियो को एक सप्ताह पहले चुराया गया था। सीसीटीवी फुटेज से पता चलता है कि इनोवा के साथ-साथ स्कॉर्पियो भी बृहस्पतिवार की तड़के घटनास्थल पर पहुंची और स्कॉर्पियो का चालक दूसरे वाहन में बैठ गया था। इसके बाद सीसीटीवी फुटेज में इनोवा को मुंबई से बाहर निकलते और ठाणे में प्रवेश करते हुए देखा गया। अधिकारी ने बताया कि पुलिस यह भी जांच कर रही है कि जिलेटिन की छड़ें कहां से खरीदी गई थीं। उन्होंने बताया कि जब्त की गई स्कॉर्पियो को फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां