chath puja 2020: ऐसे करें छठ पूजा,पूरा होगा सब मनोकामनाएं ,ये गलती भूल कर भी ना करें

Ticker

6/recent/ticker-posts

chath puja 2020: ऐसे करें छठ पूजा,पूरा होगा सब मनोकामनाएं ,ये गलती भूल कर भी ना करें

छठ पूजा इस साल 20 नवंबर को मनाया जाएगा. छठ पूजा सूर्य देव की आराधना तथा संतान के सुखी जीवन की कामना के लिए मनाई जाती है. इस त्योहार को हर साल का​र्तिक मास के शुक्ल पक्ष की षष्ठी तिथि को मनाया जाता है. जहां छठ पूजा (Chhath Puja) का व्रत 18 तारीख से नहाय - खाय के दिन शुरू होगा. जिसके बाद इसे छठ पूजा के दिन सूर्योदय अर्घ्य के बाद खोला जाएगा.


छठ पूजा 4 दिनों की होती है. इस दौरान व्रत करने वाले लोग 36 घंट तके बिना खाएं- पीएं व्रत रखते हैं. यह सबसे कठिन व्रत होता है. विधि विधान से छठी मईया की पूजा की जाती है. छठ पूजा में बहुत से नियमों का पालन करना होता हैं. यह व्रत जितना कठिन होता है उतने नहीं इसके नियम भी कठिन होते हैं.

छठ पूजा पर इन नियमों का पालन करना चाहिए

जो भी व्यक्ति छठ पूजा करता है उसे लहसुन और प्याज नहीं खाना होता है, मन्यताओं के अनुसार इन 4 दिनों में वर्जित माना जाता है.

जो भी छठ पूजा का व्रत रखता है उसे पलंग या बेड पर नहीं बल्कि जमीन पर चादर बिछाकर सोना होता है.

छठ पूजा में साफ – सफाई का बहुत ध्यान देना होता है. इसलिए कभी भी पूजा के लिए चांदी, स्टील या प्लास्टिक के बर्तन का इस्तेमाल नहींं करना चाहिए.

ध्यान रहें प्रसाद तैयार करते समय कुछ भी नहीं खाना चाहिए.

जिस जगह पर प्रसाद बन रहा है वहां पर किसी को भोजन नहीं करना चाहिए.

अगर आपने व्रत रखा है तो बिना सूर्य को अर्घ्य दिए पानी या भोजन का सेवन न करें.

पूजा के समय साफ- सुथरे कपड़े पहनें.

पूजा के दौरान फलों का सेवन न करें. पूजा खत्म होने के बाद फल खा सकते हैं.

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां