Ticker

6/recent/ticker-posts

कोरोना से बिहार के सीनियर IPS बिनोद कुमार का हुआ मौत

पटना : आईजी पूर्णिया विनोद कुमार का कोरोना के कारन निधन हो गया। उनका इलाज पटना में चल रहा था. उनका आज इलाज के दौरान निधन हो गया। उनके निधन से बिहार पुलिस में शोक की लहर दौड़ गई। विनोद कुमार को पूर्णिया का पहला आईजी बनाया गया था। उनके निधन से उनके परिजनों का रो रोकर बुरा हाल था। पूर्णिया के आईजी विनोद कुमार की कोरोना से एम्स में मौत हो गयी है। पहली बार पुलिस विभाग के बड़े अधिकारी की मौत हुई है।

विनोद कुमार ने बिहार पुलिस सर्विस के तहत ज्वाइन किया था। 2011 में आईपीएस बनाये गए। इन्हें आईपीएस का 2001बैच मिला था।

20 अगस्त 2019 को विनोद कुमार पूर्णिया रेंज के आईजी बने थे।16 अक्टूबर को कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद वे पटना एम्स में इलाज के लिए भर्ती हुए थे। शनिवार रात 11 बजे उनकी मौत हो गई।

बिहार में कोरोना के मामले

बिहार में पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण से नौ और व्यक्तियों की मौत हो जाने से शनिवार को राज्य में मृतक संख्या बढ़कर 990 हो गई। वहीं राज्य में संक्रमण के 1,173 नए मामले सामने आने के बाद कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 2,03,060 हो गयी। बिहार में कोरोना वायरस महामारी के दौरान ही चुनाव होने वाले हैं और ऐसे समय में राज्य सरकार का कोरोना वायरस से लड़ने के प्रयास भी चुनावों को ध्यान में रखते हुए निर्धारित हो रहे हैं।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बड़ी संख्या में कोविड-19 संक्रमण की जांचों और राज्य में संक्रमण से ठीक होने की उच्च दर का हवाला देते रहे हैं। विभाग ने बताया कि बिहार में पिछले 24 घंटे के भीतर 1,20,713 नमूनों की जांच की गयी और 1,259 मरीज संक्रमण से ठीक हुए। बिहार में अबतक कुल 90.15 लाख नमूनों की जांच की गयी है जिनमें संक्रमित पाए गए 1,91,515 मरीज ठीक हुए हैं। बिहार में वर्तमान में कोविड-19 के उपचाराधीन मामलों की संख्या 10,554 है और मरीजों के ठीक होने की दर 94.31 प्रतिशत है।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां