Ticker

6/recent/ticker-posts

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विपक्षियों पर साधा निशाना , बोले ये भगवान राम कि धरती है,,

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर रैली की शुरुआत की। कैमूर के रामगढ़ में सीएम योगी बोले कोरोनाकाल में मोदी और नीतीश की सरकार ने गरीबों के हित के लिए काम किया। गरीबों के लिए गरीब कल्याण रोजगार योजना की शुरुआत हुई। एक तरफ विकास की योजनाओं को लोकार्पित करने वाली सरकारें हैं दूसरी तरफ जाति और नरसंहार करवाने वाली पार्टी हैं। एक भारत श्रेष्ठ भारत के संकल्प पर काम हो रहा है। मोदी सरकार ने पिछले 6 वर्षों में बिना भेदभाव के काम किया, आम जन मानस की योजनाओं को लाभ देने में जाति, मज़हब नहीं पूछा सबका साथ सबका विकास के तहत सबको साथ लेकर चलने की कोशिश हुई। उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस और उसकी सहयोगी राजद के एजेंडा में गरीब कल्याण नहीं था, उनके एजेंडे में परिवार था।
राजद के पोस्टर में 4 के अलावा पांचवे की कोई जगह नहीं है। राजद के नेतृत्व में यहां तो गाय भैंस का चारा भी खा गए। हमने वादा किया था कश्मीर में पाकिस्तान में आतंकियों को उनके घर में घुसकर मारेंगे , हमने वादा किया था कि भगवान श्रीराम का भव्य मंदिर भी बनवाएंगे। सीएम योगी बोले हमने अपना वादा निभाया , हमने तो जनता का काम भी किया और राम का भी काम किया, इसीलिए रामगढ़ की जनता से ये आह्वान है। याद कीजिए नीतीश कुमार से पहले राजद की सरकार थी, बिहार का नवजवान अपनी पहचान बताने के लिए सकुचाता था। वो सरकार बिहार की जनता को स्वीकार नहीं होनी चाहिए, एनडीए के सहयोगियों जो हम ,वीआईपी, जदयू हैं उनका साथ दें। मोदी जी के नेतृत्व में देश आगे बढ़ रहा है और नीतीश के नेतृत्व में बिहार उन्नति कर रहा है।

अरवल की ये धरती भगवान विष्णु की धरती है अरवल विधानसभा में वन्देमातरम के जयघोष से सीएम योगी आदित्यनाथ ने जनसभा की शुरुआत की। उन्होंने कहा कि अरवल की ये भगवान विष्णु की धरती है, इसीलिए यहां दुनिया अपने पितरों को तर्पण करती है। भगवान बुद्ध ने ज्ञान प्राप्ति के लिए इसी धरती को चुना था। कोरोना काल में सबका साथ सबका विकास और गरीब कल्याण योजना को प्रधानमंत्री मोदी ने सर्वसुलभ करवाया। नीतीश कुमार के शासन के पहले बिहार में क्या होता था।

बिहार के अंदर नक्सलवाद चरम पर था, जातीय हिंसा चरम पर थी। ऐसे ही देश के अंदर कांग्रेस नेतृत्व की भी जाति क्षेत्र भाषा के आधार पर लड़ा कर राज करने की मंशा थी। कश्मीर की समस्या कांग्रेस की देन, नक्सलवाद की समस्या कांग्रेस की देन, प्रधानमंत्री मोदी ने सत्ता में आने पर पहला जनधन खाता खुलवाने का काम किया। दूसरा काम पीएम आवास दिया। गरीबों को गैस चूल्हा दिया। शौचालय दिया। कांग्रेस और राजद ने ये अगर ये किया होता तो प्रधानमंत्री मोदी को इसे देने की जरूरत ही नहीं पड़ती।

हम हमेशा कहते थे "रामलला हम आएंगे, मंदिर वहीं बनाएंगे"। राम मंदिर की राह में बाधा कांग्रेस, राजद और भाकपा माले थे। हमने कहा था आतंकियों घुसकर मारेंगे, हमने ये सब किया। कांग्रेस के एक नेता पाकिस्तान की तारीफ कर रहे थे, वो पाकिस्तान की तारीफ क्यों कर रहे हैं, ये पाकिस्तान परस्त हैं। जिस वक्त बिहार में लालू जी के नेतृत्व में राजद की सरकार थी, कांग्रेस का समर्थन था, क्या गरीबों को राशन मिलता था ? पशुओं को खाने का चारा तक खा लिया गया। एनडीए के प्रत्याशियों को जिताकर तीन चौथाई की सरकार बनानी है। अब आपको बुलेट का जवाब बैलेट से देना है।

अब पाकिस्तान के आतंकी जुर्रत नहीं कर सकते रोहतास के काराकाट जनसभा में योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पहले बिहार के युवाओं को पहचान छिपाना पड़ता था। अब पाकिस्तान के आतंकी जुर्रत नहीं कर सकते, क्योंकि भारत का जवान उन्हें घुसकर मारेगा। अब भारत के अंदर मोदी के नेतृत्व में एक ही नारा लग रहा है एक भारत, श्रेष्ठ भारत बिहार के लोग हमसे कहते थे कि "राम लला हम आएंगे , मंदिर वहीं बनाएंगे, क्या तारीख़ भी बताएंगे"। मित्रों पांच अगस्त को ये भी काम हो गया, बिहार में एनडीए की सरकार बनाएंगे तो हम भगवान राम के दर्शन भी करवाएंगे। अब तो किसी को संदेह नहीं है।

भाजपा सरकार ही राष्ट्र कल्याण कर रही है। इस कोरोना के आगे दुनिया की बड़ी-बड़ी ताकतें पस्त हो गईं, लेकिन प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारत ने कोरोना से मजबूती से लड़ा है। राजद और कांग्रेस की मंशा को पूरा नहीं होने देना है, आज पीएम मोदी और अमित शाह के नेतृत्व में 95 फीसदी नक्सलवाद समाप्त हुआ है। बिहार में एनडीए के अधिकृत उम्मीदवारों भारी मतों के साथ जिताना है।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां